1. Guidelines for Article submission

गुरुकुल पत्रिका में वैदिक एवं लौकिक संस्कृत साहित्य, धर्म, दर्शन, संस्कृति, योग, आयुर्वेद, ज्योतिष, प्राचीन भारतीय इतिहास तथा अन्य प्राच्य विद्या से सम्बन्धित शोध-पत्र प्रकाशन हेतु कभी भी सम्पादक को प्रेषित किये जा सकते हैं। यह एक त्रैमासिक/संयुक्तांक  षाण्मासिक (Quarterly/ Combined Issue Half Yearly) पत्रिका है ।

कृपया शोध-पत्र प्रेषित करने से पूर्व निम्नलिखित निर्देशों का पालन करें-

• गुरुकुल पत्रिका में प्रकाशन हेतु शोध निबन्ध की टंकित मूलप्रति प्रेषित करें, पी॰ डी॰ एफ॰ फ़ाइल, फोटो- स्टेट एवं हस्तलिखित लेख स्वीकार्य नहीं होंगे । अतः विद्वानों से अनुरोध है कि निबन्ध की मूलप्रति टंकण के उपरान्त शोधन करके लेख प्रेषित करें। जिससे लेख को शुद्धतम रूप में प्रकाशित कराया जा सके।

• शोध निबन्ध में शोध लेखक का निष्कर्ष सुसंगत, प्रामाणिक एवं तथ्यों पर आधारित तथा परम्परा से पोषित होना चाहिए । साथ ही उनमें अपने कथन या निष्कर्ष को पुष्ट करने के लिए न्यूनतम 20 सन्दर्भ/प्रमाण देने आवश्यक हैं।

• अन्धविश्वास को बढ़ावा देने वाले निबन्धों को प्रकाशित करना सम्भव नहीं हो सकेगा, अतः अन्धविश्वास का समर्थन करने वाले निबन्ध कृपया न भेजें।

• ईमेल के साथ- साथ लेखक को अपने शोध पत्र की हार्ड कॉपी प्रेषित करना भी आवश्यक है, जिससे मूल्याङ्कन के लिए शोध लेख प्रेषित किया जा सके।

• शोध पत्र प्रेषण के साथ इस आशय का प्रमाण पत्र भी प्रेषित करें कि यह लेखक का अपना स्वयं का मौलिक कार्य है। इसमें दी गई सामग्री के प्रति मेरा पूर्ण उत्तरदायित्व है। यह शोध पत्र अन्यत्र प्रकाशनार्थ नहीं भेजा गया है। शोध पत्र से संबन्धित भविष्य में किसी प्रकार के होने वाले वाद-विवाद के लिए मैं पूरी तरह जिम्मेदार हूँ। साथ ही लेखक द्वारा अपना दूरभाष न॰, ई-मेल तथा पत्र व्यवहार का पूर्ण पता लिखा जाना अनिवार्य है।

3. MANUSCRIPT REQUIREMENTS

Format Microsoft Office Format  
Font English- Times New Roman, Font Size-12 हिंदी एवं संस्कृत- यूनिकोड (Kokila), फॉण्ट साइज़- 14
Referencing Instructions पाद टिप्पणी (Footnote) को डालने के लिए superscript का प्रयोग न कर उसे ALT+CTRL+F के माध्यम से डालें । इस प्रकार फुटनोट डालने में त्रुटि की संभावना नहीं रहती है । फुटनोट में रखे गए सन्दर्भ का font size- अंग्रेजी-10 (बोल्ड या इटालिक न करें) हिंदी एवं संस्कृत- 12 (बोल्ड या इटालिक न करें) .  
सन्दर्भ विधि (Referencing Style)- MLA
1. Author.
2. Title of source.
3. Title of container (self-contained if  a book)
4. Other contributors (translators or editors)
5. Version (edition)
6. Number (vol. and/or no.)
7. Publisher
8. Publication date
9. Location (pages, paragraphs, URL or DOI ).  
Example:- स्वामी सरस्वती दयानन्द ऋग्वेदादि भाष्य भूमिका , 11 वाँ संस्करण आर्ष साहित्य प्रचार ट्रस्ट , दिल्ली , 2012 , पृष्ठ संख्या -02  
Typing Instructions and Address शोध पत्र 5000 से 7000 शब्दों का होना चाहिए तथा सन्दर्भ देते समय
क़ोटेशन मार्क का उपयोग अवश्य करें । टंकण के उपरान्त, शोधन कृपया
ई-मेल से प्रेषित करें ।
ई-मेल का पता : gurukulapatrika@gmail.com
मो0 नं0- 09897273663, 07300761267